Blogger पर Custom Domain कैसे लगायें | Step By Step

आप अगर एक फ्री ब्लॉग बना कर ब्लॉगिंग कर रहे हैं या करना चाहते हैं तो आपके लिए Google का Blogger अच्छा रहेगा । यहां पर आपको किसी भी चीज के लिए पैसा देने की जरूरत नहीं आपको बस जरूरत तो थोड़ा Technical ज्ञान की लेकिन अब आपको इसकी भी चिंता करने की जरूरत बिल्कुल नहीं क्योंकि हम आपको Blogging से सम्बंधित सभी चीजें सिखाएंगे इस ब्लॉग के माध्यम से ।

यदि आपका ब्लॉगर पर Blog है तो आपको यह पता होगा कि Blogger हमे अपना Subdomian प्रयोग करने के लिए देता है । 

इसे एक उदाहरण से समझते हैं । जैसे आपको एक ब्लॉग बनाना है Health से सम्बंधित तो आप उस ब्लॉग का नाम रखते हैं Myhealth । लेकिन Blogger का Account बनाना के बाद आपको ब्लॉग के लिए सेटअप करना पड़ता है जिसमें आपको एक Domain Name भी देना होता है यदि आप फ्री Blogger का Subdomain का प्रयोग करते हैं तो आपके ब्लॉग का Domain कुछ इस प्रकार होगा myhealth.blogspot.com ।

लेकिन आप चाहे तो इस Domain को बदल भी सकते हैं और अपना खुद का एक Custom Domain लगा सकते हैं । इस लेख के माध्यम से आप जानेंगे कि Custom Domain क्या है , इसके क्या लाभ हैं और इसे कैसे लगाएं ?

Custom Domain क्या है ?

किसी ब्लॉग या वेबसाइट में Domain या Subdomain का प्रयोग किया जाता है। यदि आप अपना Blog Blogger पर बनाते हैं तो वह आपको एक Free Subdomain दे देता है जिसकी सहायता से आप अपने Blog पर जा सकते हैं लेकिन Google ने अपने Blogger Platform पर यह भी सुविधा दे रखी है कि आप अपना एक Domain खरीद कर अपने ब्लॉग पर लगा सकते हैं ।

यह जो Domain लगाया जाता है उसे ही हम Custom Domain कहते हैं । जैसे आपके ब्लॉग का पहले जो डोमेन myhealth.blogspot.com था उसकी जगह अगर आप अपना Domain myhealth.com जोकि आपने कहीं से खरीदा है इसको आप अपने Blog पर लगाते हैं तो इसी को ही कहते हैं Custom Domain

Custom Domain के क्या लाभ हैं ?

एक फ्री का Domain यूज़ करने से बेहतर है हम अपना खुद का Custom Domain का प्रयोग करें क्योंकि इसके बहुत से फायदे हैं । इन्हीं फ़ायदों के बारे में आपको जानना जरूरी है ।

तो चलिए जानते हैं Custom Domain से होने वाले फ़ायदों के बारे में :

Search Engine के लिए बेहतर 

एक Custom Domain Name किसी Search Engine के लिए बेहतर होता है। उस ब्लॉग को इनकी तरफ से ज्यादा प्राथमिकता दी जाती है जिसमें Custom Domain Name का प्रयोग किया जाता है। 

Adsense Approval

चाहे आप जिस भी तरीके का Domain Name अपनी वेबसाइट पर प्रयोग करें यदि आप Google की Adsense Policies को पूरा करते हैं तो आपको Adsense Approval मिल जाता है लेकिन यदि आप एक Custom Domain Name का प्रयोग करते हैं तो Adsense Approval मिलने के Chances ही नही बढ़ते बल्कि जल्दी भी मिलता है।

याद करने में आसान 

यह भी जरूरी है कि जब लोग आपकी वेबसाइट पर आए और आपके पोस्ट को पढ़ें अगर उन्हें पोस्ट अच्छा लगता है और आपकी साइट उन्हें काम की लगती है तो वह आपकी वेबसाइट को ध्यान में रखने की कोशिश करते हैं ताकि वह आपकी साइट पर दोबारा आ सकें लेकिन यदि आपके साइट का Domain Name बहुत बड़ा है तो वह उन्हें याद रखने में दिक्कत होगी इसके लिए अगर आप एक छोटा Custom Domain Name का उपयोग करते हैं तो आपके यूज़र्स के लिए बेहतर होगा ।

दिखने में Professional 

लोगो को चीजें दिखने में भी पसन्द आनी चाहिए ऐसे में जहां एक बड़ा Subdomain नाम याद करने में मुश्किल होता है वहीं वह दिखने में भी काफी Complicated लगता है । ऐसे में अगर आप Custom Domain Name का प्रयोग करते हैं तो यह दिखने में अच्छा और सटीक होता है ।

इसके साथ अपना एक Professional E-mail भी बना सकते हैं जैसे contact@hinditechie.com

Alexa Rank 

यदि आपके ब्लॉग का एड्रेस blogspot.com के साथ है तो यह आपके Alexa Rankig के लिए सही नही है । ऐसे में अगर आप Custom Domain का उपयोग करते हैं तो यह आपकी Alexa Ranking में किसी प्रकार की बाधा नही बनने वाला है।

Blogger में Custom Domain कैसे लगाएं

यदि आपका ब्लॉग Blogger पर है तो वहां पर Custom Domain लगाना बहुत ही आसान है । इसके लिए सबसे पहली चीज आपके पास एक Custom Domain Name का होना जरूरी है। 

अब हमारे द्वारा बताए जा रहे Steps को आपको ध्यान से पढ़कर कर उन्हें Follow करें :

Step1- Add Custom Domain

  • आपको सबसे पहले अपने Blogger के Account में Login हो जाना है। 
  • अब आपको वहां पर बायीं तरफ कई सारे Options दिए गए होंगे वहां पर एक ऑप्शन Settings का होगा । आपको उसपर क्लिक करना है।
  • अब आपके सामने एक Settings का Section खुल के आ जायेगा जिसमें बहुत सी Settings होंगी उनमें से आपको Publishing में जाके Custom Domain को चुनना है।
  • जैसे ही आप क्लिक करेंगे आपके सामने एक Popup बन के आएगा जिसमे आपको अपना Domain डालना होगा । आपको अपने डोमेन के आगे www. लिखे इसके बाद आप अपना डोमेन लिखे । जैसे www.gurugconstruction.com फिर नीचे दिए गए Save बटन पर क्लिक करना है।
  • जैसे ही आप Save बटन पर क्लिक करेंगे आपके सामने एक Error आएगा कुछ इस प्रकार से We have not been able to verify your authority to this domain. On your domain registrar’s website, locate your Domain Name System (DNS) settings and enter the following two CNAMEs: (Name: www, Destination: ghs.google.com) and (Name: awa3w26lerzx, Destination: gv-zjcmqk2wijn25p.dv.googlehosted.com). See https://support.google.com/blogger/answer/1233387 for detailed instructions.
  • लेकिन आपको परेशान नही होना है इसी error में आपको दो  CNAMEs होंगे  जिसमें आपको Name और  Destination की Value को Copy करके एक जगह रख लें। मैं यहाँ पर आपके सुविधा के दोनों CNAME को नीचे लिख दे रहा हूँ |
  1. Name –  www ,                   Destination – ghs.google.com  
  2. Name –  awa3w26lerzx ,    Destination-  gv-zjcmqk2wijn25p.dv.googlehosted.com

Step2- DNS Management 

  • अब आपने जहां से भी Domain खरीदा है उस वेबसाइट पर आपको जाना है । मैं यहां आपको Bigrock की साइट पर जाके DNS Management के लिए बताऊंगा । आपने जहां से भी खरीदा हो आप उस वेबसाइट पर जाए सभी की DNS Management की Settings करने की प्रक्रिया एक ही तरह की होती है।
  • अब आपको अपने Domain वाली वेबसाइट के एकाउंट में जाना है और वहां पर आपको अपने Domain पर जाना है|
  • जैसे ही आप अपने डोमेन पर क्लिक करेंगे आप एक नये पेज पर पहुंच जायेंगे यहाँ पर आपको सबसे नीचे जाना होगा | यहाँ आपको Manage DNS दिखेगा वहां पर आपको क्लिक करना है ।
  • अब यहाँ आपके सामने एक Popup बन कर आ जायेगा जहाँ पर कई सारे Option होंगे | लेकिन वहा पर आपको एक आप्शन CName Record का भी दिखाई देगा आपको उसपर क्लिक करना |
  • जैसे ही ही आप क्लिक करेंगे आपके सामने एक Add CNAME Record का Option दिखाई देगा आपको उसपर क्लिक करना है |
  • जैसे ही आप क्लिक करेंगे आपके सामने Host Name , Value और TTL भरने के आप्शन आएंगे आपको वहा पर वही CNames रिकॉर्ड को भरना है जो आपको ब्लॉगर में error में दिखाए गये थे | अब आपको नीचे दिए गये Add Record के बटन पर क्लिक कर देना है |  
  • इसी तरह आपको दूसरा वाला भी CName को भर देना है जो error में दिखाया गया था |
  • अब आपको ऊपर वाले Options में  A Records के आप्शन पर क्लिक करना है | 
  • जैसे ही आप क्लिक करेंगे आपके सामने एक आप्शन दिखाई देगा Add A Record आपको उसपर क्लिक करना है |
  • जैसे ही आप क्लिक करेंगे आपको रिकॉर्ड भरने के लिए आप्शन दिए गये होंगे | आपको यहाँ पर Host Name  में कुछ भी नही लिखना है | नीचे दिए Destination वाले में आपको हमारे द्वारा नीचे दिए जा रहे 4 Addresses को add करना है पहले आप एक Address Add करें और TTL में 144000 डाले और Add Record पर क्लिक करें | इसी तरह आपको चारों को Add करना है सभी TTL की  Value 144000 रखना है |
  1. 216.239.32.21
  2. 216.239.34.21
  3. 216.239.36.21
  4. 216.239.38.21
  • इस तरह चारों रिकॉर्ड Add हो जायेंगे और आपको उनका Status Active दिखाई देगा |

Step3- Redirect Domain

  • अब आपको फिर से अपने ब्लॉगर में जाना है वहां पर आपको अपना Custom Domain डालना है और Save बटन पर क्लिक कर देना है | 
  • जैसे ही आप Save बटन पर क्लिक करेंगे आपका डोमेन बिना किसी Error के जुड़ जायेगा | कभी कभी थोड़ा समय भी लग सकता है तब तक के लिए आप इन्तेजार कर लें | 
  • जब आपका Custom Domain जुड़ जाए तब आपके सामने उसके नीचे एक Redirect Domain का Toggle बटन दिखाई देगा आपको उसे On कर देना है | 
  • इससे On करने से आप बिना www लिखे ही अपनी वेबसाइट तक पहुंच पाएंगे | जैसे अगर आप https://www.gurugconstruction.com के बजाय आप https://gurugconstruction.com की सहायता से भी अपनी वेबसाइट तक पहुंच जायेंगे | 

यह थी Blogger पर Custom Domain लगाने की पूरी प्रक्रिया |

उम्मीद है आपको इस लेख के माध्यम से बताई गयी सारी बातें बहुत ही आसानी से समझ आ गयी होंगी | यदि आपको किसी भी प्रकार का संदेह है इस लेख में तो आप हमें Comment करके जरुर पूछे हम आपकी पूरी सहायता करेंगे |

Leave a Comment