ये बिना जाने SEO का कोई फ़ायदा नहीं !! 🔥

SEO का नाम सुनते ही आपके मन में जरूर सबसे पहले Keywords आते होंगे, है ना ? और आपको लगता होगा इसी पर बस SEO आधारित है, बस सही Keyword चुन लो और उसे सही जगह लगा दो बस काम हो गया और फिर हमें तो ये SEO वाले Plugin ने भी 80-90 का Score दे दिया है अब तो बस दो चार बैकलिंक्स बना दें फिर काम हो गया समझो !!

हाँ ज़्यादातर लोग ऐसे ही सोचते हैं, पर आखिर ऐसी क्या बात है कि खूब सारे Keyword लगाकर भी और सबकुछ करके भी Traffic नहीं आता, कुछ तो कारण जरूर होगा ! तो चलिये जानते हैं उस कारण को जिसकी वजह से आप सब कुछ करके भी Traffic हासिल नहीं कर पा रहे !

क्या है Search Intent ?

हर एक Keyword के पीछे वास्तव में एक मंशा छिपी होती है कि जो सर्चर है वो क्या सर्च करना चाहता है या क्या जानना चाहता है !

अगर ये मंशा यानि Intent आपको पता चल जाये या आपको इसमें महारथ हासिल हो जाये तब तो बात बन जाये, फिर आपको इस तरह SEO नहीं करना पड़ेगा कि आपको आगे Keyword रखना है, आपको यहाँ Keyword रखना है आपको वहाँ Keyword रखना है !

ये Keyword भरने वाला SEO मुझे सच में स्कूल के समय के Fill in the Blanks की याद दिला देता है, कुछ आए या ना आए बस यहाँ ये भरना है क्यूंकी पास वाले दोस्त ने कहा है, चाहे उसका अर्थ का अनर्थ हो जाये !

रोज़मर्रा की ज़िंदगी में भी Intent का कितना बड़ा रोल है आप इस बात से समझ सकते हैं कि सोच लीजिये आप थके हुए घर आते हैं और कहते हैं “मुझे प्यास लगी है” आपको पानी देने के बजाय घर से भी आवाज़ आए “मुझे भी प्यास लगी है” तो कैसा लगेगा ?

वैसा ही आजकल कुछ SEO के साथ हो रहा है, बस Keyword की जगह निर्धारित कर दी गयी है, और इतनी बार आना चाहिए, इतना प्रतिशत होना चाहिए बस यही सब !

प्रूफ – गूगल सर्च Intent पर काम करता है !

अब इसको सिद्ध करने के लिए कि गूगल कोई Text Search Engine नहीं बल्कि Intent Search Engine है यहाँ मैं आपको कुछ दिखाता हूँ ! अब नीचे मैंने एक सर्च की है उसे ध्यान से देखिये, यहाँ मैंने लिखा “I am Hungry” पुराने वाले Keywords वाले SEO के हिसाब से यहाँ Results में I am hungry ही लिखा होना चाहिए था !

यहाँ तो Results में ये Restaurants दिखा रहा है, ऐसा क्यूँ ?

ऐसा इसलिए क्यूंकी गूगल आपकी मंशा (Intent) समझ रहा है कि आपको क्या चाहिए, आप भूखे हैं तो खाना ही ढूंढ रहे होंगे, इसका Translation तो ढूँढेंगे नहीं, अगर आप Translation ढूंढ रहे होते तो सर्च कुछ इस तरह होती !

तो भाई ये सिद्ध हो गया कि गूगल Text से हमारी मंशा यानि Intent समझता है ! अब ये कैसे समझा जाये कि सर्च करने वाले उस Keyword से सर्च क्या करना चाह रहा है !

बिना मंशा जाने अगर आप Keyword Research कर रहे हैं तो वो किसी काम की नहीं है और ना ही आपका SEO किसी काम का है !

अब सोचिए अगर आप सर्चर की मंशा समझ गए तो आप कितना बेहतर कंटेन्ट बना पाएंगे और कितना बेहतर SEO कर पाएंगे, और कितना बेहतर कर पाएंगे सर्च इंजन में भी ! तो देर किस बात की शुरू करते हैं –

Intent को कैसे जानें ?

किसी भी सर्चर की मंशा (Intent) निम्न प्रकार की हो सकती है ! जैसे हो सकता है कोई किसी चीज़ के बारे में कुछ जाना चाहता हो, या हो सकता है कोई समस्या हल करना चाहता हो, या किसी विशेष वेबसाइट को ढूंढ रहा हो, या कुछ खरीदना चाहता हो !

  1. ज्ञान (Knowledge) या जानकारी (Information)– Why, How, Who, या क्यों, कब, किसने, कहाँ या किसी चीज़ ना नाम को सीधे सर्च करने को इस Category में रखा जा सकता है, यानि सर्चर उस चीज़ या जगह या व्यक्ति के बारे में जानना चाहता है !-जैसे – Melody itni chocolaty kyu hai? या सिर्फ एक नाम भी हो सकता है – Melody Toffee
  2. समाधान (Solution) – विशेषकर How to वाली सर्च को इसमें रखा जा सकता है ! How to Do this, How to do that?
  3. Branded सर्च (किसी विशेष Website या Brand की सर्च जैसे Amazon.in) इसके साथ किसी वस्तु का नाम भी जुड़ा हो सकता है, जब व्यक्ति कुछ विशेष सामान, या विशेष जानकारी, किसी विशेष Website से ही चाहता है ! जैसे – Best Earphones Amazon.in
  4. Action सर्च (जब कोई व्यक्ति कुछ विशेष करने के लिए सर्च करता है जैसे Ticket Book करने के लिए, या कुछ खरीदने के लिए, इन Keywords में Buy, Shipping, Online, या किसी विशेष Model No. का जिक्र रहता है ! जैसे – Headphone buy online

Keyword Intent जानने के लिए Tools

इसके कुछ Steps और कुछ Tools हैं चलिये समझते हैं –

पहला टूल – आपका दिमाग

जब भी कोई Keyword देखें, सोचें कि सर्च करने वाला आखिर क्या ढूँढना चाह रहा है, और ऐसे सोचें कि वो किस तरफ आकर्षित होगा, मान लीजिये अगर मुझे भूख लगी है, और सड़क पर ढेर सारे होटल हैं, तो वे ये तो नहीं लिखेंगे कि “भूखे लोग यहाँ आयें”, अगर कोई लिखेगा भी तो कोई वहाँ नहीं जाने वाला, पर अगर कोई लिखे “पेट भर स्वादिष्ट भोजन यहाँ मिलता है ” तो लोग जरूर वहाँ जाएंगे !

दूसरा टूल – सर्च इंजन

उस Keyword को सर्च कीजिये और देखिये कि गूगल उसके Results में क्या दे रहा है ? और ऐसे सोचिए अगर आप सच में ये Keyword सर्च कर रहे होते तो कौन सा Result आपको सबसे ज़्यादा प्रभावित करता ? अब आपको उससे भी ज़्यादा प्रभावित करने वाला कुछ सोचना है !

तीसरा टूल – Advertisement

search intent

जब भी आप सर्च करते हैं तो देखते होंगे कि कुछ Advertisement, सर्च से ऊपर दिखाई देते हैं, आपको उन्हें समझना है और देखना है कि वो क्या लिख रहे हैं क्या टाइटल है, क्या भावनाएँ उस प्रचार में प्रयोग की जा रही हैं !

चौथा टूल – People Also Ask

आप देखते ही होंगे कि अब हर बार जब भी आप सर्च करते हैं तो गूगल कुछ सवाल और उनके जवाब आपके सर्च में रख देता है वो सामान्य तौर पर सर्चर की मंशा (Intent) पर ही आधारित होते हैं, इनसे भी आप सर्च करने वाले की मंशा समझ सकते हैं !

पाँचवाँ टूल – Answerthepublic

यहाँ आप वो सभी सवाल देख सकते हैं जो किसी भी Keyword के लिए सर्च किए जा रहे हैं, और उनसे सर्चर की मंशा को आसानी से समझ सकते हैं ! कि आखिर कोई भी सर्च करने वाला इस Keyword से क्या जाना चाहता है !

अब लिखना कैसे है?

एक बार आपको Intent समझ आ गया तो अब आप जो वो चाह रहा है तो आप कंटेन्ट भी उसी हिसाब से बनाएँगे, जिससे आपका SEO भी Perfect होगा और आपका कंटेन्ट भी !

चलिये एक बार फिर से इसे एक उदाहरण से समझते हैं, याद कीजिये जब भी आप किसी कपड़े की दुकान पर जाते हैं तो दुकानदार अगर आपका Intent समझ कर कपड़े दिखाता है तो आप फिरसे उसी के पास जाने का प्रयास करते हैं क्यूंकी आपको लगता है आपके पसंद के कपड़े तो उसी के पास मिलते हैं !

आखिर में

अब जब आप Keyword Intent को समझने में माहिर हो चुके हैं तो अब वो Keyword चुनिये जिनमें सर्च Volume अधिक है चुनने के लिए आप Competition कम है, आगे की पोस्ट्स में इन सब पर भी चर्चा होगी !

6 thoughts on “ये बिना जाने SEO का कोई फ़ायदा नहीं !! 🔥”

  1. Sir very informative article a beginner like me. Sir aap se ek help chahiye.I am a mechanical engineer and don’t know abcd of blogging.but I managed to build a blog by watching youtube and also post some article. Sir please kindly audit my site and let me what is going on my site. Its a humble request to you
    Thank you

    Reply

Leave a Comment